पैर के नाखूनों में सरसों का तेल लगाने के फायदे / what benefits mustered oil in foot nail hindi

पैर के नाखूनों में सरसों तेल लगाने के फायदे / what benefits mustered oil in food nail hindi

बचपन मे दादी नानी के नुक्से आज के समय मे भी लाभदायक है बस हमको उनको करने का तरीका आना चाहिये। बचपन मे दादी नानी हमको सर्दी जुकाम ठंड से बचने के लिये सरसों का तेल गरम करके उसकी मालिश हमारे शरीर पर करती थी जिसका फायदा यह मिलता था कि हम बहुत जल्द सो जाते थे और उनको परेशान नही करते है। वे जो मालिश हमको करती थी उसका फायदा यह होता था कि हमे जो थकान होती थी वह उस मसाज करने से उतर जाती थी। जब हम सर्दी जुखाम होता था या सीने में कोई परेशानी होती थी तो वे सरसो के तेल में लहसुन को पका कर उसकी मसाज कर दिया करती थी। जब यह मसाज हो जाती तो हम सर्दी जुखाम से हमको राहत मिलती थी। पहले जमाने मे लोग डॉक्टर वैद्य के पास कम ही जय करते थे। उसका  कारण यह था कि हमारे पूर्वजो के अनुभव बहुत पक्के होते थे।  इसी के दम पर वह इलाज कर लिया करते थे। 

पैर में नाखूनों में तेल लगाने के फायदे

पैर में नाखूनों में  अक्सर सरसो का तेल लगाना फायदेमंद होता है लेकिन यह तेल कब ज्यादा फायदेमंद होता है उसके बारे में बात करेगे। जब हमारी उम्र 50 के पार हो जाती है तो हमारे खून की गति धीमी होने लगती है जिसके कारण हमारा खून शरीर के हर हिस्से में अपनी उपस्थति नही दे पाता जिसके कारण अनेक समस्याये उतपन्न होने लगती है जिनको हम रोग कहते है। उनमें से एक समस्या यह होती है कि हमारी त्वचा सूखने लगती है खासकर जो लोग थायराइड मधुमेह से  पीड़ित है उनको यह समस्या ज्यादा होती है जब त्वचा सूखने लगती है तो नाखूनों में पानी पड़ने से उनके किनारे सुख कर बेजान होने लगते है यदि हम उस दौरान उनकी देखभाल कर ले तो उस सुखी त्वचा को सूखने से बचाया जा सकता है। यदि त्वचा इसी तरह सूखती रही तो नाखून कमजोर हो जायेगे ओर उसका परिणाम यह होगा कि वह कमजोर होकर टूटने लगेंगे। यह समस्या न आये उसके लिये आपको सरसो के तेल को दिन में दो बार लगाने से इस समस्या से बचा जा सकता है। यह एक उत्तम कारगर उपाय है। ।


Previous
Next Post »